QR कोड स्कैन करके WeChat पर रोलेक्स को फ़ॉलो करें

डॉन वॉल्श

प्रत्येक रोलेक्स एक कहानी बयां करती है

1960 में, अमेरिकी नेवी के लेफ़्टिनेंट डॉन वॉल्श और स्विस समुद्र विज्ञानी जैक्स पिक्कार्ड, प्रशांत महासागर के नीचे, बैथीस्कैफ त्रिएस्ते पर सवार हो कर मेरियाना ट्रेंच के लिए उतरे, जो दुनिया के महासागरों का सबसे गहरा बिन्दु है। एक प्रयोगात्मक रोलेक्स ओयस्टर घड़ी, डीप सी स्पेशल और जो अब “द ओल्ड लेडी” के नाम से जानी जाती है, त्रिएस्ते के बाहरी हिस्से से जोड़ी गई थी और इसके क्रू ने न केवल अपनी डाइव के साथ रिकॉर्ड स्थापित किया बल्कि गहरे समुद्र की खोज के लिए एक मौलिक मील का पत्थर स्थापित किया। एक तरह से, वॉल्श के DNA को उसके बाद की बनी प्रत्येक रोलेक्स घड़ी में पाया जा सकता है।

Every Rolex Tells A Story — Don Walsh

युवा लोग अक्सर मुझ से पूछते हैं कि वो एक अन्वेषक कैसे बन सकते हैं? और मैं कहता हूँ, “यह बहुत सरल है, आपने एक अन्वेषक के रूप में ही जन्म लिया है।”

युवा लोग अक्सर मुझ से पूछते हैं — और वो मेरे सबसे प्रिय दर्शक भी हैं —कि वो एक अन्वेषक कैसे बन सकते हैं? और मैं कहता हूँ, “यह बहुत सरल है, आपने एक अन्वेषक के रूप में ही जन्म लिया है। आपको सबसे ऊँचे पर्वत की चढ़ाई या फिर महासागर के सबसे गहरी जगहों में गोते लगाने की ज़रूरत नहीं है, आपको बस अपने आस-पास की दुनिया के प्रति उत्सुक होना है।”


एकमात्र चीज़ जो मैं कभी बनना चाहता था वह था एक नाविक। 1930 के दशक के अंत में, हम सैन फ्रान्सिस्को बे के पास के एक घर में रहते थे। मैंने जहाजों को गोल्डन गेट से बाहर निकालते हुए और फिर क्षितिज में कहीं गायब होते हुए देखा और कहा, “ मैं अचंभे में हूँ कि वहां क्या है और मैं उसे कैसे देख सकता हूँ? मैं इसे कैसे कर सकता हूँ?” मैं सौभाग्यशाली रहा हूँ क्योंकि मैंने उसे देखा, उसे किया और अभी भी उसे कर रहा हूँ। मैं उत्तरी ध्रुव पर जा चुका हूँ, मैं महासागर के सबसे गहरे हिस्से के तले तक जा चुका हूँ, और 65 साल बाद आज भी मैं नई चीज़ें सीख रहा हूँ।


पानी के नीचे की दुनिया के सबसे बड़े आकर्षण को लेकर मेरा यह विचार होता है कि, मैं एक नए ग्रह की यात्रा कर रहा हूँ। कुछ 100 मीटर के बाद, यह एकदम अंधकारमयी हो जाता है, और यह एक नई दुनिया में प्रवेश करने जैसा है, आप कुछ ऐसे प्राणियों से परिचित होते हैं जो पूरी तरह अपने घर में हैं, लेकिन मैं नहीं हूँ — मैं एक बाहरी व्यक्ति हूँ।

डॉन वॉल्श की रोलेक्स घड़ी

महासागर के सबसे गहरे हिस्से की यात्रा से एक वर्ष के पहले ही मैं वहाँ की यात्रा की संभावना से अवगत हुआ। मैं यूएस नेवी सबमरीन्स में सेवारत था जब बैथिस्केफ नाम की किसी चीज़ के लिए स्वैच्छिक रूप से जुड़ने का अनुरोध आया, यह एक ऐसी मशीन थी जो आपको महासागरों की गहराइयों में जाने की अनुमति देती थी। मैंने स्वेच्छा से इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया, और मैंने एक छोटी सी यात्रा के साथ एक आजीवन यात्रा शुरू की – 11 किलोमीटर – जब मैंने सबसे गहराई तक गोता लगाया।

“पानी के नीचे की दुनिया के सबसे बड़े आकर्षण को लेकर मेरा यह विचार होता है कि, मैं एक नए ग्रह की यात्रा कर रहा हूँ। ”

केबिन में हमारी रहने की परिस्थिति काफी तंग थी। जैक्स पिक्कार्ड एक बहुत लंबे पुरुष हैं जबकि मैं बहुत बड़ा नहीं हूँ – इसलिए जो भी बची जगह थी मुझे उसी में रहना था। तापमान घरेलू रेफ्रिजरेटर से थोड़ा सा बेहतर था। यह 1960 की बात है, जब उपयोग किए जाने वाले अधिकांश बिजली के उपकरण, गर्मी छोड़ते थे। यह थोड़ा तंग था, लेकिन हम बहुत व्यस्त थे; हम अपने खेल में मगन थे। इसने महासागरों में काम करने के एक नए युग की शुरुआत की।

हमारे गोते के दौरान हमारे साथ एक और सह-यात्री थी, एक खास तौर पर बनाई गई रोलेक्स घड़ी, जिसे आज हम, “द ओल्ड लेडी” के नाम से जानते हैं। उस समय जेनेवा में उनके पास महासागर की पूरी गहराई नापने की सुविधा नहीं थी, इसलिए हम इस नई घड़ी के परीक्षण मंच थे।

वो नौ घंटे के इस गोते के पूरे समय, पूर्ण गहराई के दबाव के सामने रही। मैं यह जानने को उत्सुक था कि क्या “द ओल्ड लेडी” अभी भी काम कर रही है, और जब हम ऊपर आए, तो वह काम कर रही थी। उसने अच्छा प्रदर्शन किया, हमने अच्छा प्रदर्शन किया। यह काम का एक अच्छा दिन था। यह जान कर मुझे अत्यंत हर्ष होता है कि “द ओल्ड लेडी” की विरासत अभी भी जारी है – और मेरा DNA जो “द ओल्ड लेडी” में है, वो आज सभी रोलेक्स घड़ियों में मौजूद है।


इस अग्रणी गोते की पचासवीं सालगिरह के उपलक्ष्य में, मुझे यह रोलेक्स घड़ी उपहार में मिली थी, और उन्होंने इसकी पिछली तरफ, बड़े प्रेम से खुदवाया था, “डॉन वॉल्श, सबसे गहरा गोता 1960, प्रशंसा में 2010।” मुझे इस पर बहुत गर्व है — यह मुझसे कभी जुदा नहीं होती।

“यह जान कर मुझे अत्यंत हर्ष होता है कि “द ओल्ड लेडी” की विरासत अभी भी जारी है – और मेरा DNA जो “द ओल्ड लेडी” में है, वो आज सभी रोलेक्स घड़ियों में मौजूद है। ”

यह मुझे याद दिलाती है कि मैं कौन हूँ, मैं कहाँ जा चुका हूँ और निश्चय ही यह एक उपलब्धि और गर्व की भावना है। मैं इसे देखता हूँ और ये मुझे यह याद दिलाती है कि, हम अतीत में बहुत अधिक नहीं रह सकते। हमें अतीत और उपलब्धियों का आदर करना होता है लेकिन हमें आगे बढ़ना होता है।